दाल रोटी खाओ प्रभु के गुन गाओ ( ग्याहरवाँ दिन )


आज कवैरंटाईन का ग्यारहवाँ दिन शुरू हो गया है । पिछले दस दिन तो अच्छे से गुज़रे हैं तो आगे भी अच्छे ही गुजरेंगें ।


अब कवैरंटाईन के बारे में जिस समय घोषणा हुई थी उस समय तो हर किसी ने फटाफट राशन और सब्ज़ी वग़ैरा खरीदना शुरू कर दिया था । और हमने भी ऐसा ही किया था ।

वैसे राशन तो ज़्यादा ख़रीद भी सकते हैं और काफ़ी दिन तक इस्तेमाल भी कर सकते है क्यों कि आटा चावल तो जल्दी ख़राब नहीं होते है पर सब्ज़ी भला कितने दिन चलेगी । ये सवाल तो ज़रूर उठा ।



अब हरी सब्ज़ी कोई दस या बारह दिन तक ही चल सकती है चाहे कितना भी स्टॉक कर लें क्यों कि बाद में धीरे धीरे सब्ज़ी ख़राब होने लगती है । वैसे आलू,प्याज़ टमाटर तो काफ़ी समय तक इस्तेमाल किये जा सकते है ।


वैसे हमारे यहाँ तो दुकानों पर अभी सब्ज़ी ,फल वग़ैरा मिल रहा है । और कभी कभी ऑनलाइन ऐप पर भी ऑर्डर करके आ जाता है । हालाँकि हम नहीं जाते है पर हमारे गार्ड वग़ैरा कभी कभार फल सब्ज़ी बाज़ार से ला देते है ।


हमने तो घर में भी कह रखा है कि जब सब्ज़ी वग़ैरा नहीं मिलेगी तो दाल रोटी खाई जायेगी ।

वैसे हम ये पोस्ट बाद में लगाने वाले थे पर कल अपनी एक सखी से बात करने के बाद आज ही ये पोस्ट लगा दी क्योंकि वो कुछ परेशान थी कि सब्ज़ियाँ ख़त्म हो रहीं है । आगे क्या होगा ।



एक बात तो है पहले ज़माने की फ़िल्मों में गाने भी क्या खूब होते थे । जो आज के समय में बिलकुल फ़िट बैठ रहें है ।


दाल रोटी खाओ ,प्रभु के गुण गाओ
ये समझो और समझाओ
थोड़ी में मौज मनाओ
दाल रोटी खाओ प्रभु के गाओ











Comments

Popular posts from this blog

क्या उल्लू के घर मे रहने से लक्ष्मी मिलती है ?

निक नेम्स ( nick names )

क्या सांप की आँख मे मारने वाले की तस्वीर उतर जाती है ?(एक और डरावनी पोस्ट )