Posts

Showing posts from November, 2008

बच्चे मन के सच्चे ....

आज बाल दिवस के मौके पर कुछ ऐसे गीत सुनिए जो हमें बहुत पसंद है और इन्हे सुनकर एक बार फ़िर से उसी बचपन मे लौट जाइए क्यूंकिवोकहतेहैनकिहरइंसानकेअन्दरएकबच्चारहताहै ।:)

वैसे भी आज के भागते -दौड़ते समय मे इस तरह के गीत अब कम ही सुनाई देते है ।

Powered by eSnips.com