स्ट्रिप सर्च (strip search)

आज की हमारी ये पोस्ट ज्ञान जी की टिप्पणी से जुड़ी हुई हैकल ज्ञान जी ने समीर जी की पोस्ट पर टिप्पणी की थी। और फ़िर जब ndtv पर ये न्यूज़ देखी थी।तो अचानक ही इस पर पोस्ट लिखने की सोची। अमेरिका मे अब एअरपोर्ट पर स्कैनर मशीन लगाई जा रही है जिससे किसी भी तरह की दुर्घटना को रोका जा सके। इससे पहले मार्च मे लन्दन मे भी ऐसी ही मशीन thruvision नाम की एक कंपनी ने बनाई है । इस नई टेक्नोलॉजी का नाम t5000 system है।इसमे लगे कैमरा की मदद से कपडों मे छिपाए गए हथियार ,drugs,वगैरा के बारे मे पता लगाया जा सकता है। ओह हो अब क्या हम ही सारी ख़बर बताएँगे। अरे पहले आप इसे पढिये तो सही।

Comments

Gyandutt Pandey said…
ओह, आप कल्पना करें और तक्नॉलाजी पहले से हाजिर!
अच्छा है, हम किसी हवाई अड्डे पर चेक-इन के लिये नहीं गये!:)
पर हमारे रेलवे के सिक्यूरिटी कमिश्नर कल यह स्टेशन पर लगाने की रट लगायेंगे तो क्या होगा?!
लिंक देने के लिये धन्यवाद।
तकनीक का विकास लोगों को असुविधा से बचाने के लिए ही होना चाहिए. बढ़िया जानकारी दी आपने, ममता जी.
mehek said…
bahut achhi kabhar rahi,agar crime ko kisi bhi taknik se roka ja sake uska swagat hai.
Udan Tashtari said…
आभार लिंक के लिए. देखिये तकनिकी विकास की यात्रा,,,...मैं जो कह रहा था..शायद जल्द ही सच दिखे. :)
कुछ भी असंभव नहीं !

Popular posts from this blog

कार चलाना सीखा वो भी तीन दिन मे .....

क्या उल्लू के घर मे रहने से लक्ष्मी मिलती है ?

निक नेम्स ( nick names )