Monday, May 19, 2008

आजकल जिस धड़ल्ले से बॉलीवुड के सितारे ब्लॉगिंग मे उतरने लगे है कि ब्लॉगिंग या ब्लॉग जगत को अब ब्लौगीवुड कहा जा रहा है।हालांकि अभी तो कुछ ही फिल्मी सितारे ब्लॉग जगत मे आए है जैसे आमिर और अमिताभ बच्चन और अब तो सुना है कि जूही चावला भी अपना ब्लॉग बनाने जा रही है। पर लगता है कि अब जल्दी हो दूसरे सितारे भी इस मे कूदने को तैयार है।

अमिताभ बच्चन अपने दिल कि बात ब्लॉग पर लिख रहे है वो चाहे राज ठाकरे से संबंधित हो या शाह रुख से। और अब तो अमिताभ ने शाह रुख और उनके बीच की ग़लत फहमी को दूर करने की पहल भी कर दी है अपने ब्लॉग मे।

आमिर अपने ब्लॉग पर अपने कुत्ते जिसका नाम शाह रुख है उस के बारे मे लिख रहे है कि उनका doggi क्या-क्या करता है। और वो उसे कैसे बिस्कुट खिलाते है।कोई कहता है कि आमिर अपने भांजे की फ़िल्म को प्रमोट करने के लिए अपने ब्लॉग का इस्तेमाल कर रहे है ,तो कोई कहता है कि वो अपनी फ़िल्म गजनी को प्रमोट करने के लिए ब्लॉग का इस्तेमाल कर रहे है। पर लगता है कि आमिर अपने फिल्मी दुश्मनों को नीचा दिखाने के लिए ब्लॉग का इस्तेमाल कर रहे है। अब आमिर जैसे perfectionist को इतनी घटिया हरकत करने की क्या जरुरत है। ये तो आमिर ही बता सकते है।

सुना था कि शाह रुख खान ने भी अपनी आई.पी.एल टीम नाईट राईडर के लिए ब्लॉग बनाया था पर पता नही शाह रुख ने ब्लॉग लिखना शुरू किया या नही

ये तो हम सभी जानते है कि ब्लॉग पर लोग अपने दिल की बातें लिख सकते है और इसके लिए कोई किसी को रोक नही सकता है। पर ब्लॉगिंग अब बॉलीवुड का अखाडा बनता नजर आ रहा है।इन फिल्मी सितारों के आने और इस तरह की उल-जलूल बातों को लिखने के कारण अब तो टी.वी.चैनल भी ब्लॉगिंग के बारे मे कार्यक्रम दिखाने लगे हैअभी कल रात ही जी न्यूज़ ने इस पर एक कार्यक्रम ब्लौगीवुड नाम से दिखाया था।


ऐसा लगता है कि बॉलीवुड मे ब्लॉग तो ओरकुट,फेसबुक वगैरा से ज्यादा प्रचलित होने वाला हैअरे भाई इससे अच्छा जरिया और क्या होगा दूसरों को भला -बुरा कहने का

6 Comments:

  1. nadeem said...
    mamta ji aap ki baat sahi hai..par iska ek fayeda bhi hai ki iski wajah se blog jagat sukhiyaan batore raha hai. aur jo log isse anjaan the wo bhi ismein koodne ko tayyaar ho gaye hai...magar haan aisi baatein itne bade logon ko shobha nahi deti...magar ye bhi theek hi hai jaisa ham apne hindi blog jagat mein dekhte hai ki log apne dil ki bhadas hi nakaalte hain wahi kaam inka bhi hai.
    sachin said...
    आपका ब्लॉग पढ़ा। मुझे एक बात समझ मे नही आ रही है कि आजकल अभिनेताओं के ब्लॉग पर हम क्यो अपना कीमती समय इन बेकार और फिजूल की बातों को लिखकर उनसे अपने को दिनहीन और गया गुजरा साबित करने मे लगे है। क्या हम सभी का कोई वजूद नही है जो इन जैसे लोगो के बेसिरपैर की किसी भी हरकतों पर अपना समय बरबाद करे। क्या आम व्यक्तियों के लिए उनका अपना कोई मंच नही होना चाहिए जहाँ पर वे सिर्फ़ अपने जैसों की बात करे या उनसे संबंधित समस्याओं और उनके विकास मे योगदान देने मे सक्रिय हो सकें। इन नामी लोगो ने हर जगह घुसपैठ कर रखी हैइन्हे मीडिया के लिए छोड़ दे, वे इन्हे पुरा कवर करेंगे हम सिर्फ़ अपनी सकारात्मक और भोली भाली लेखनी की ओर ध्यान दे तब मजा आएगा और हमे अपने आत्मसम्मान को बरक़रार रखने भी सहायता मिलेगी। धन्यवाद।
    DR.ANURAG ARYA said...
    sub pubilicity stunt hai aor apna ullu seedha karne ka jariya...
    दिनेशराय द्विवेदी said...
    चलिए आम लोग जानने लगे कि ब्लॉग चीज क्या है? और थोड़ा बहुत ग्लेमरस हम भी महसूस कर सकते हैं, आखिर अमिताभ से सीनियर ब्लॉगर तो हैं ही। क्या हुआ जो बदनाम हुए, नाम तो हुआ।
    Udan Tashtari said...
    यही इस बात का प्रमाण है कि ब्लॉग अपनी बात रखने का सशक्त साधन है.
    A. Rohman said...

Post a Comment