Tuesday, May 27, 2008

अरे हमारे पूछने का ये मतलब थोड़े ही था की आप नही कह दे. पर अब जब आपने इस ट्रॉफी को नही देखा है तो हम इसके बारे मे ही बता देते है। अब आई पी एल इतने दिन से हो रहा है और इसके बारे मे हम भी यदा-कदा लिखते ही रहते है तो सोचा की क्यों ना आज आई पी एल की ट्रॉफी कुछ बात हो जाए। पर हम सोच रहे है कि कुछ कहने से अच्छा है कि आप इस लिंक पर जाकर ख़ुद ही देख लीजिये। तो कैसी लगी आपको ये आई.पी.एल की ट्रॉफी ।

तो चलिए अब इस ट्रॉफी के बारे मे थोड़ा और जान लेते है। इसे orra जो की हीरे की एक बड़ी कंपनी है उसने इस ट्रॉफी को बनाया है। इसमे सोना,रूबी,और हीरों का इस्तेमाल किया गया है।पर इस ट्रॉफी की कीमत किसी को नही मालूम है क्यूंकि इसकी कीमत का खुलासा नही किया गया है। ये या तो सिर्फ़ बी.सी.सी.आई.ही जानती है या फ़िर इसे बनानी वाली कंपनी।

और ट्रॉफी पर शाह रुख खान की ओर से दिए जाने वाले मैन ऑफ़ द मैच का हेलमेट भी याद आ गया । ये हेलमेट भी सोने का बना हुआ था और उस हेलमेट का वजन ७ किलो था।(था इसलिए क्यूंकि अब तो कोलकत्ता नाईट राईडर आई.पी.एल.से बाहर जो हो गए है ) अब जिन खिलाडियों को ये हेलमेट मिला उनकी तो हो गई ना बल्ले-बल्ले। :)

7 Comments:

  1. Udan Tashtari said...
    अच्छी जानकारी दे दी. पहली बार देखी ट्राफी.

    :)

    थोड़ा सा झूठ बोला है.(पहली बार देखी ट्राफी...ये!)
    mahendra mishra said...
    जिसको सोने का टोप मिलेगा उसकी बल्ले बल्ले तो होगी ही . बहुत बढ़िया जानकारी दी है अपने धन्यवाद
    Neeraj Rohilla said...
    वाह ममताजी,
    हमने भी देख ली ट्राफी, आज तो वैसे भी खुश हैं दिल्ली ने सेमी फाइनल में जगह जो बनायी है |

    ट्राफी की जानकारी के लिए धन्यवाद |
    Gyandutt Pandey said...
    कित्ते की होगी जी यह?!
    DR.ANURAG ARYA said...
    shukriya ji....dikhane ke liye...
    बाल किशन said...
    अच्छी ट्रोफी है जी.
    अभिषेक ओझा said...
    इसका नाम तो इंडियन पैसा लीग होना चाहिए :-)

Post a Comment