बोर्ड की परीक्षायें रद्द कर दी गई है ( अनलॉक ३.० )

वैसे ये ख़बर तो कल ही आ गई थी । हालाँकि पिछले कुछ दिनों से थोड़ी असमंजस की स्थिति सी भी थी । कभी होता था कि इम्तिहान जुलाई में होगें तो कभी कोई तारीख़ एनाउंस करते थे कि फ़लाँ तारीख़ से बोर्ड की परीक्षा हो सकती है ।


पर खैर अब ये निश्चित हो गया है कि बोर्ड के इम्तिहान नहीं होंगे । इम्तिहान ना होने की ख़बर से बच्चों को और उनके माता पिता को जरूर बडी राहत मिली होगी ।


क्योंकि इस कोरोना के माहौल में स्कूल , पढ़ाई और इम्तिहान से कहीं ज़्यादा ज़रूरी है कोरोना से सुरक्षा ।

वैसे कुछ राज्यों को बच्चों के इम्तिहान ज़्यादा ज़रूरी लग रहें है और वहाँ परीक्षायें भी हो रही है । पता नहीं क्यूँ ।

वैसे जहाँ कुछ बच्चे बोर्ड के इम्तिहान ना होने पर शायद ख़ुश होंगें तो वहीं कुछ बच्चे शायद अपसेट भी होगें क्योंकि उन्हें फ़ुल मार्कस शायद नहीं मिल पायेंगें ।

ऐसा हम इसलिये कह रहें है क्योंकि हमारी एक फ्रैंड है जिनका नाती बारहवीं क्लास में है और इम्तिहान ना होने की ख़बर पाकर थोडा अपसेट हो गया क्योंकि अब वो कम्प्यूटर में फ़ुल नम्बर ( १०० ) नहीं ला पायेगा । क्योंकि अब तो इम्तिहान ही कैंसिल हो गया है ।

तो वहीं उनकी पोती स्कूल और इम्तिहान ना होने पर बेहद ख़ुश है । 😊

फिलहाल तो बच्चों और पेरेंटस को इस सब में ज़्यादा नहीं पड़ना चाहिये और ना ही ज़्यादा सोचना चाहिये । माता पिता को ख़ुद और बच्चों को ऐसी स्थिति का सामना करना चाहिये । कम से कम बच्चों का साल तो बरबाद नहीं हो रहा है ।


Comments

Popular posts from this blog

क्या उल्लू के घर मे रहने से लक्ष्मी मिलती है ?

निक नेम्स ( nick names )

क्या सांप की आँख मे मारने वाले की तस्वीर उतर जाती है ?(एक और डरावनी पोस्ट )