बाथरूम क्लीनर का रिव्यू (अनलॉक २.० ) ग्यारहवाँ दिन

कुछ दिन पहले हमने अपने इस बाथरूम क्लीनर रूपी हैल्पर के बारे में आप लोगों को बताया था ।

तो चलिये अब चूँकि हमने इसे इस्तेमाल किया है तो उसी के बारे में थोडा और डीटेल में बताते है ।क्योंकि हमारी एक फ़्रेड ने भी इसके बारे में पूछा था ।

ये सही है कि इससे बाथरूम की ज़मीन और दीवार पर लगी टाइल्स को साफ़ करने में अच्छा रहता है । क्योंकि ब्रश या झाड़ू से साफ़ करनें में मेहनत तो लगती ही है साथ ही बैठकर ज़मीन साफ़ करनी पड़ती है । तो उस झंझट से ये मुक्ति दिलाता है ।

और चूँकि इसमें रॉड लगा है तो बस खडे खडे जहाँ भी सफाई करनी है वहाँ कर सकते है । पर ऐसा नहीं है कि एक ही दिन की सफाई में ये टाइल्स को बिलकुल नया सा कर देगा ।

हाँ जब इसमें ब्रश को बदलना होता है तो चूँकि अभी ये नया नया है तो हमें थोडा ज़ोर लगाना पड़ता है ।

और हाँ क्योंकि ये मशीन है तो कभी कभी सफाई करते हुये छींटे भी उछालती है ।वैसे तो ब्रश वग़ैरा से सफाई में भी थोड़े बहुत छींटे तो पड़ते ही है ।

और इसमें ये ध्यान देने की सबसे ज़रूरत है कि इसके ऊपर डायरेक्ट पानी नहीं पड़ना चाहिये । वरना ये ख़राब हो सकता है ।

क्योंकि ये बैटरी से चलता है तो इसे हर बार सफाई करने के बाद रिचार्ज करना पड़ता है ।

हमें तो फिलहाल इससे बाथरूम क्लीनिंग काफ़ी आसान लग रही है । क्योंकि सबसे झंझटी काम तो टाइल्स की सफाई का ही होता है । 😏

Comments

Popular posts from this blog

क्या उल्लू के घर मे रहने से लक्ष्मी मिलती है ?

निक नेम्स ( nick names )

क्या सांप की आँख मे मारने वाले की तस्वीर उतर जाती है ?(एक और डरावनी पोस्ट )