Saturday, March 7, 2009

अब आम स्कूल और विद्यालय के बारे मे तो हम सभी जानते है पर क्या आपने कभी नेता गिरी स्कूल के बारे मे पढ़ा या सुना है ।हमने तो नही सुना था । पर कल ही हमने टाईम्स ऑफ़ इंडिया के गोवा एडिशन मे इस स्कूल के बारे मे पढ़ा तो सोचा आप लोगों को भी इस स्कूल के बारे मे बताना चाहिए ।अब वो क्या है ना की आज कल चुनावों का मौसम है तो ऐसे मे हो सकता है किसी के काम ही आ जाए ये ख़बर । :)

ख़बर तो आप पढ़ ही लेंगे चलिए थोड़ा -बहुत हम भी बता ही देते है । ये नेता गिरी विद्यालय बर्द्धवान कम्पाउंड रांची मे स्थित है । और इस में प्रवेश लेने के लिए बस पाँचवीं पास होना चाहिए और इसकी फीस महज ५० रुपये है जो आज के जमाने के हिसाब से बहुत कम है । :)

और हाँ इसमे १८ से ५५ साल तक के लोग प्रवेश ले सकते है । और इस विद्यालय की क्लास लोगों की सहूलियत ध्यान मे रखते हुए हर शनिवार को २ घंटे के लिए होती है ताकि लोग आसानी से क्लास attend कर सके ।और कोई भी क्लास मिस ना करे ।


अरे -अरे ये क्या आप तो चल दिए ।

अरे ख़बर तो पूरी पढ़ लीजिये फ़िर जाइयेगा स्कूल मे एडमीशन लेने । :)

इस नेतागिरी विधालय के छात्र भविष्य मे क्या करते है ये तो समय ही बतायेगा

15 Comments:

  1. Nirmla Kapila said...
    mamtaji aise vidyalaya me mai to jaroor admision le loongi kya aapki sifarish kaam karegi aji hame bhi nataon ke gur seekhne hain
    mehek said...
    aare waah,neta school :)kya khilaye dekhe gul
    ज्ञानदत्त । GD Pandey said...
    समय की जरूरत है यह विद्यालय। बस उसमें कुछ प्रवचन मॉरल साइंस पर भी हो तो अच्छा हो!
    डॉ .अनुराग said...
    fees kitni hai ?affordeble hai bhi ya nahi ?
    Science Bloggers Association said...
    अरे वाह, किसी को जरूरत हुई तो अवश्‍य रेफर किया जाएगा।
    neeshoo said...
    एडमिशन कब से ओपन है ।
    संगीता पुरी said...
    फी तो अधिक होनी चाहिए थी इसकी ... वहां तो कुर्सी और पैसे दोनो को पाने की शिक्षा मिलती होगी ।
    P.N. Subramanian said...
    बड़ी अच्छी बात है. वैसे एक बात बताना चाहूँगा कि कुछ लोग जो उद्यमी किस्म के होते हैं पर स्वयं कुछ कर नहीं पाते, वे आजकल consultant बन जाते हैं.आभार.
    रंजना [रंजू भाटिया] said...
    अब तक का रिजल्ट कैसा रहा है इसका :) कितने विद्यार्थी हैं अब तक ?:)
    राज भाटिय़ा said...
    हमारे होन हार नेता शायद यही से पढ कर निकले होगे एक बिहारी नेता का तो पक्का है....
    धन्यवाद


    आपको और आपके परिवार को होली की रंग-बिरंगी भीगी भीगी बधाई।
    बुरा न मानो होली है। होली है जी होली है
    mamta said...
    आप सभी का टिप्पणी के लिए शुक्रिया ।
    निर्मला जी वहां सिफारिश की कोई जरुरत नही है । :)
    अनुराग जी फीस तो बस ५० रूपये ही है ।
    रंजना जी रिजल्ट का तो पता नही है । :)
    संगीता जी इतनी कम फीस पढ़कर हमारे मन मे भी आप जैसे ख़्याल आए थे ।
    सुब्रमनियन जी consultant बनना अब सबसे अच्छा धंधा बन रहा है । :)

    राज जी होली की बधाई के लिए धन्यवाद ।
    cmpershad said...
    अरे भई, किसी स्कूल में जाने की ज़रूरत क्या है- यह जन्म जात धंधा है। बस शर्त यही है कि किसी नेता के घर में जन्म हो:)
    Manish Kumar said...
    At an admission fee of Rs 50, the students are given discourses on organizational structures, social values and professional laws

    रिपोर्ट पढ़ कर तो लगा कि ये लोग कुछ अच्छा ही कर रहे हैं। आजकल के गली छाप लीडरान को इन सब की समझ आ जाए तो बेहतर है। क्या आपको ऍसा नहीं लगता ?
    दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi said...
    ममता जी, ये लोग तो सीरियसली स्कूल चला रहे हैं। मेरे विचार में तो यह शिक्षा सभी के लिए जरूरी है। अच्छा काम कर रहे हैं। कुल मिला कर सूचनाएँ लोगों तक पहुंचाना महत्वपूर्ण काम है।
    सागर नाहर said...
    अरे वाह यह तो आपने बहुत बढ़िया जानकारी दी..
    मैं तो चला, पहले एडमिशन ले लूं बाद में बात करेंगे।

Post a Comment