गोवा मे विदेशी

ये तो जग-जाहिर है गोवा मे जितने हिन्दुस्तानी घूमने आते है उससे कहीँ ज्यादा विदेशी लोग आते है।यूं तो सारे साल ही लोग आते है पर अक्तुबर से मार्च तक तो विदेशी पर्यटकों कि भरमार रहती है,चाहे आप beach पर जाये या किसी रेस्तौरा मे। वैसे यहां ब्रिटिश और रशियन ज्यादा आते है जिसके दो कारण है एक तो वहां ठंड बहुत पड़ती है और दुसरे गोवा कि मौज मस्ती और आराम।
beach पर सुबह ये स्न्बाथ लेते हुए नजर आते है तो शाम को बाजार मे घुमते है पर एक बात कि तारीफ करनी पडेगी कि ये लोग ख़ूब पैदल चलते है। यहाँ पर ये लोग bikes या जीप किराए पर ले लेते है जो कि काफी सस्ती पड़ती है पर ये लोग काफी रैश चलाते है मानो इन्हें किसी का डर ही नही है। बस एक नक़्शा हाथ मे लिया और चल दिए।

गोवा मे हर शनिवार इन्गोस night बाज़ार लगता है शाम ७ बजे से सुबह २-३-४ बजे तक, वहां जा कर ये लगता ही नही है कि आप हिंदुस्तान मे है ,चारों तरफ विदेशी और सिर्फ विदेशी ही दिखाई देते है। और ज़्यादातर दुकाने भी इन्ही विदेशी लोगो कि होती है। वैसे कुछ हिन्दुस्तानी दुकाने भी होती है।

गोवा मे तो बहुत सारे विदेशियों ने घर बना लिए है और धड़ल्ले से प्रोपर्टी खरीदते जा रहे है। गोवा मे ऐसे बहुत से लोग है जो एक बार बाहर जाने के बाद वापस लौट कर नही आये , उनके घरों को ये लोग खरीद लेते है ।कई लोग तो ऐसे है जो हर साल गोवा २ महीने के लिए आते है और बेफिक्र होकर रहते है।

Comments

Popular posts from this blog

कार चलाना सीखा वो भी तीन दिन मे .....

क्या उल्लू के घर मे रहने से लक्ष्मी मिलती है ?

निक नेम्स ( nick names )