सलोनी का सफ़र

ज़ी टी .वी .की सलोनी जितना विश्वास नील पर करती है उतना ही वो उन्हें धोखा दे रहा है.चलो माना की सलोनी तो परेशां है पर उनके घरवालों को तो जैसे कुछ समझ ही नही आता है सिवाय कावेरी के जिसे हर बात की खबर रहती है.शुब्रा का अपने पति को सबक सिखाने का तरीका बिल्कुल सही है,ऐसे लोगो के साथ ऐसा ही करना चाहिऐ .शुब्रा की सास अपने बेटे के साथ जो कुछ कर रही है उसे देख कर लगता है कि क्या एक माँ अपनी बहु से बदला लेने के लिए इतना नीचे गिर सकती है.पहले तो जबर्दुस्ती शादी की फिर ये सब करना क्या अच्चा लगता है.पर भाई अगर ये सब ज्यादती ना दिखाए तो उनकी टी .र.प.कैसे बढ़ेगी .

Comments

Popular posts from this blog

कार चलाना सीखा वो भी तीन दिन मे .....

क्या उल्लू के घर मे रहने से लक्ष्मी मिलती है ?

निक नेम्स ( nick names )