Wednesday, March 14, 2007

चिदाम्बरम जी जो हमारे वित्त मंत्री हैं और लालू यादव जो रेलवे मंत्री है दोनों ने अपना -अपना बजट संसद मे पेश किया.रेलवे मंत्री के बजट ने जहाँ सब आम और खास को खुशी दी वही वित्त मंत्री जी ने सबके दिल पर चोट पहुचाई.उन्होने लोगो की बचत की सीमा मात्र १० हजार बढा कर ऐसे दिखा रहे ह मानो ५० हजार किया हो.मेरे ख्याल से लालु यादव जी को वित्त मन्त्री बना देना चाहिये क्योकि जिस रेलवे को जबर्द्स्त घाटा हो रहा था अगर उसमे २०हजार करोड का मुनाफा हो सकता है तो शायद उनके वित्त मन्त्री बनने से भी जनता का भला हो जाये.

0 Comments:

Post a Comment