Sunday, December 30, 2007

अभी कुछ दिन पहले शास्त्री जी की एक पोस्ट पढ़ी थी जिसे पढ़कर हमने खूब सोचा कि क्या वाकई एक और साल बेकार गया। बहुत सोचने पर लगा कि नही इतना भी बेकार नही गया हैयूं तो आम तौर पर हर साल जीवन मे कुछ अच्छा तो कुछ बुरा होता है२००७ मे और कुछ अच्छा भले ही हुआ हो पर एक बात बहुत अच्छी हुई कि हम ने ब्लॉगिंग करना शुरू कर दिया। :)
वैसे २००७ हमारे लिए बहुत मायने रखता है। हाँ ये जरुर है कि ये जो कुछ भी हुआ उसे लक्ष्य को पाना भले ही न कहें पर इन सबका हमारे जीवन मे महत्त्व जरुर है।यूं तो ये सब बहुत ही छोटी-छोटी बातें है पर फिर भी हम कुछ बातों का जिक्र यहां करना चाहेंगे।

१)इस २००७ मे ही हमने कंप्यूटर चलाना सीखा। इससे पहले भी कई बार सीखा था पर हर बार कुछ दिन करने के बाद छोड़ देते थे। पर इस साल फरवरी से हमने कंप्यूटर पर जो काम करना शुरू किया तो अभी तक कर रहे है। :)

२)आख़िर इसी २००७ मे हमने ब्लॉगिंग की दुनिया मे कदम रखा जहाँ शुरू मे तो सभी लोग अनजाने थे ,परिवार छोटा था पर धीरे-धीरे यही अनजाने लोग अपने होते गए और ये परिवार बड़ा होता गया। आज इस ब्लागिंग की बदौलत ही हम एक साथ इतने लोगों से जुडे हुए है , हम तो यही मानते है।

३)इसी साल हमारी शादी के पचीस साल पूरे हुए है। जो लक्ष्य पाना तो नही है पर खुशी का मौका जरुर है।

४)और आख़िर मे हम भी इस साल ब्लॉगिंग के लिए एक लक्ष्य को निर्धारित करते है कि हमने जो अपना एक नया ब्लॉग सवा सेर शोपर नाम से बनाया तो इसी साल है, उसमे लिखना नए साल से शुरू करेंगे

भाई हम तो ऐसी ही छोटी-छोटी बातों मे खुश होते हैचलिए बहुत हो गया अब अपना किस्सा यहीं खतम करते है






5 Comments:

  1. Dard Hindustani (पंकज अवधिया) said...
    इतनी सारी उपलब्धियाँ और फिर भी कह रही है छोटी-छोटी बाते!!!

    नव-वर्ष की अग्रिम शुभकामनाए।
    Lavanyam - Antarman said...
    Mamta ji,
    Main aapke nazariye se sehmat hoon.
    2007 , aapke liye uplabdhee bhara raha hai aur aanewala 2008 ka saal aapko va samast parivaar ke liye ,
    nayee khushiyaan laye yehi shubh kaamnaon ke sath,
    sneh,
    Lavanya
    maithily said...
    खुशी के लिये तो छोटी-छोटी बातें ही काफी है.
    आपके ब्लाग सवा सेर शोपर का url क्या है?
    उन्मुक्त said...
    शादी की रजत जयन्ती की बधाई।
    महावीर said...
    नया वर्ष आप सब के लिए शुभ और मंगलमय हो।
    महावीर शर्मा

Post a Comment