Pirates of grill

दो दिन पहले हम इस रेस्टोरेंट में गये थे जो दिल्ली के राजौरी गार्डन में है । हालाँकि हम इस जगह पहली बार गये थे पर वहाँ का माहौल और खाना दोनों काफ़ी अच्छा था । जैसे ही अन्दर जाते है तो म्यूज़िक सुनाई देता जो थोड़ा तेज़ था क्यूँकि उसकी वजह से बात करने में दिक़्क़त हो रही थी। अगर म्यूज़िक थोड़ा हल्का होता तो बेहतर होता । वैसे ये रेस्टोरेंट बार बे कयू नेशन रेस्टोरेंट जैसा ही है ।

ख़ैर जैसे ही हम लोग बैठे तुरन्त ही वेटर आया और खाने की चॉयस पूछकर मतलब वेज और नॉन वेज ,वेटर ने फटाफट ग्रिल लाकर लगा दिया और मशरूम और सोया चॉप सकरूयर पर लगाने के साथ ही पनीर टिक्का , मकई के दाने, आलू की छोटी मगर करारी टिक्की सालसा सॉस के साथ और छोटे वेज कबाब सर्व कर दिया। वैसे नॉन वेज में भी बहुत सारे आॉपशन थे जैसे प्रॉन, सीक कबाब, फ़िश फ़िंगर ,चिकन और साथ में सभी वेज डिशज भी । :) और साथ में मॉकटेल भी सर्व की जाती है ।


ये स्टार्टर इतने होते है कि उसके बाद खाना खाने के लिए कुछ ज़्यादा जगह नहीं बचती है। :)
ऐसा हम इसलिए कह रहे है क्यूँकि ये हमारा ख़ुद का तजुरबा है । खाने के लिए कई तरह के सलाद ,पिनडी छोले , वेज बिरयानी ,पनीर ,दाल,और भी बहुत कुछ था पर चूँकि हमने ना ज़्यादा कुछ खाया और ना ही ज़्यादा कुछ देखा ।

स्वीट डिश में भी बहुत कुछ था जैसे पेस्ट्री ,केक,पुडिंग पर हमने सिर्फ़ मूँग दाल का हलवा और पिसता क़ुल्फ़ी ही खाई । :)

वैसे खाने का बिल कितना था वो हम नहीं जानते क्योकि बिल किसी और ने दिया था । :)

वैसे हमारा अन्दाज़ा है कि बार बे कयू नेशन की तरह ही यहाँ भी सात या आठ सौ रूपये प्रति व्यक्ति ही होगा ।























Comments

Popular posts from this blog

क्या उल्लू के घर मे रहने से लक्ष्मी मिलती है ?

निक नेम्स ( nick names )

क्या सांप की आँख मे मारने वाले की तस्वीर उतर जाती है ?(एक और डरावनी पोस्ट )