अन्तरराष्ट्रीय महिला दिवस

सबसे पहले तो अन्तरराष्ट्रीय महिला दिवस पर सभी को बधाई।

यूँ तो हम सभी घर और बाहर की सभी ज़िम्मेदारियों को बख़ूबी निभाते है पर अगर हम लोगों के घर काम करने वाली जिन्हें हम househelp या मेड कहते है अगर वो ना हो तो कुछ भी सुचारू रूप से नहीं चल सकता है।

हमारी अनिता और पार्वती जो चाहे सर्दी हो या गरमी हो बारिश हो ये दोनों सुबह सबेरे अपने समय पर ठीक साढ़े सात बजे हमारे घर की घनटी बजा देती है। कभी कभी तो हम इनकी घनटी की आवाज़ से ही जागते है , पर ये अपने समय की पक्की है।

तो आज का ये ख़ास दिन हमारी अनिता और पार्वती के नाम ।

Comments

Popular posts from this blog

क्या उल्लू के घर मे रहने से लक्ष्मी मिलती है ?

निक नेम्स ( nick names )

क्या सांप की आँख मे मारने वाले की तस्वीर उतर जाती है ?(एक और डरावनी पोस्ट )