ट्रेन में टिकट के प्रिंट आउट की जगह एस.एम एस. दिखाइए

बात 2010-2011 की है उस समय लखनऊ में हमारा बेटा पढ़ रहा था और जब भी दिल्ली शताब्दी या दुरंतो से आता था तो वो अक्सर टिकट का प्रिंट आउट लिए बिना ही ट्रेन board करता था और ट्रेन में टी.टी.को प्रिंट आउट की जगह एस.एम.एस. में टिकट दिखाने पर हर बार 50 या 100 रूपये का फाईन  देना पड़ता था।. और हम हमेशा उससे कहते थे की पहले से टिकट क्यूँ नहीं निकाल कर रखते हो।. हर बार फ़ालतू में फाईन देते हो।.

और ऐसा ही एक बार हमारे साथ भी हुआ।. 2011 की बात है  हम लोग शताब्दी से भोपाल  से दिल्ली आ रहे थे और उस बार हम लोगों के पास  टिकट का प्रिंट आउट नहीं था जबकि फ़ोन में एस.एम.एस. में टिकट का पूरा डिटेल था यानी पी .एन.आर. नंबर वगैरा था पर उस समय टी.टी.उस पर यकीन नहीं कर रहा था और बार--बार टिकट प्रिंट आउट के लिए  ज्यादा जोर दे रहा था . जबकि  उसे अपना आई.डी वगैरा भी दिखाया  था।.और बस वो अपनी ही बात बार--बार दुहरा रहा था और ऐसा जता  रहा था मानो हम लोगों बिना टिकट यात्रा कर रहे हो।.   हम लोगों ने उससे कहा की ठीक है अगर आप इसे नहीं मान रहे  है  तो पेनेल्टी  ले लो . तब अचानक ही वो सुधर गया और कहने लगा की नहीं ठीक है।.

और अब आप लोगों ने भी देखा होगा की आजकल रेलवे की साईट (irctc )पर जब टिकट बुक करते है तो साइड में लिखा रहता है की paperless यात्रा कीजिये . टिकट के  प्रिंट आउट के बजाय फ़ोन में आये हुए एस.एम.एस को ट्रेन में टी.टी.को दिखाइए।.

समय कैसे और कितनी जल्दी बदल जाता है की  अब  रेलवे की वेब साईट पर ही लिख रहे है की paperless  travel कीजिये। जबकि पिछले साल तक paperless यात्रा पर फाईन देना पड़ता था। :(


Comments

BS Pabla said…
तकनीक और समय बहुत कुछ बदलाव ला देते है
तकनीकी प्रगती का कमाल है । पर सुविधा जनक भी है पर्स खंगालने की जरूरत नही ।
Lavanya Sethi said…
I booked a rail ticket for me using irctc vide PNR no. 2562870011 (Transaction ID: 0480387060) for journey from DMO-LTT on September 2, 2012 for the journey on September 22, 2012 in Train No. 11072, the only train plying to Mumbai from nearest station from my home town. Unfortunately, I could not travel and i had to file TDR on 16/09/2012. I was informed by irctc that refund will come within 90 days.

After 4 months of follow up, the status of TDR is showing as regretted. Please hold to get the refund.
I filed the complaint in Consumer Court also but. Still not got any response. Please help me to get some solution.
Ishika Khanna said…
Seems to be a perfect place to learn something new.. Here I can pick many things for my blog as I have recently created and its in progress. My blog is totally different from your blog. But still I want the admin to suggest me that how can I attract visitors to increase traffic. Have a look here, http://free-songs.org on my blog and do suggest me if there is any requirement for any change. I would be really glad and any suggestions would be appreciated. Thanks in advance!!!!
publish ebook with onlinegatha, get 85% Huge royalty, send abstract free,send Abstract today:http://www.onlinegatha.com/
Ebook Publisher

Popular posts from this blog

कार चलाना सीखा वो भी तीन दिन मे .....

क्या उल्लू के घर मे रहने से लक्ष्मी मिलती है ?

निक नेम्स ( nick names )